स्वदेश स्किल कार्ड ऑनलाइन पंजीकरण फॉर्म 2020

स्वदेश स्किल कार्ड ऑनलाइन पंजीकरण फॉर्म 2020 (प्रक्रिया, पात्रता, दस्तावेज)

स्वदेश स्किल कार्ड योजना के तहत पंजीकरण प्रक्रिया केंद्र सरकार द्वारा प्रारंभ कर दी गई है। इस योजना में कुशल श्रमिकों को रोजगार प्रदान करने के लिए डाटा बेस तैयार किया जा रहा है। इस योजना में उन कुशल श्रमिकों की तलाश सरकार द्वारा की जा रही है जो अन्य देशों से लौटे हैं। वंदे भारत मिशन आरंभ करके अन्य देशों से भारत के नागरिकों को वापस भारत लाया गया। महामारी के प्रकोप के दौर में विभिन्न क्षेत्रों में रोजगार पर बाहरी प्रभाव पड़ा है और स्थिति को संभालने के लिए साथ ही रोजगार के नए अवसर पैदा करने के लिए मिशन का आरंभ कर दिया गया है। मुख्य रूप से यह मिशन उन लोगों के लिए आरंभ किया जा रहा है जो ताला बंदी के कारण दूसरे देशों से भारत की ओर लौट आए हैं।

swades-scheme-apply-online-form

योजना की मुख्य विशेषताएं

  • योजना का मुख्य लक्ष्य समूह:– इस योजना में उन भारतीय नागरिकों का डाटाबेस तैयार किया जाएगा जो दूसरे देशों में काम के लिए जाते हैं और देशव्यापी तालाबंदी की वजह से अन्य स्थानों पर फंसे हुए थे।
  • योजना द्वारा दिए गए लाभ:- सरकार द्वारा जारी योजना पोर्टल के तहत पंजीकरण करवाकर उम्मीदवार विभिन्न नौकरियों की तलाश कर सकते हैं और अपने योग्य अनुसार उन नौकरी को पाने के लिए अप्लाई भी कर सकते हैं। इस योजना से घरेलू और अंतरराष्ट्रीय दोनों ही बाजारों की हालत सुधारने में सहायता प्राप्त होगी और साथ ही बेरोजगार व्यक्तियों को रोजगार प्राप्त करके अपनी आजीविका दोबारा से चलाने में सहायता प्राप्त होगी।
  • स्वदेश कार्ड का प्रचार:- सरकार द्वारा जारी किया गया कौशल कार्ड विभिन्न देशों के उच्चायोग वाणिज्य दूतावासों और दूतावासों के माध्यम से विस्तार किया जाएगा क्योंकि यह कार्ड सुविधा की पहुंच को बढ़ाने में सहायक होगा।
  • कार्ड के प्रसार के अन्य तरीके:– केंद्र सरकार ने इस कार्ड के प्रसार के लिए अलग-अलग तरीके अपनाने का फैसला लिया है जिसमें एयर इंडिया एक्सप्रेस और एयर इंडिया द्वारा उड़ान की घोषणा भी शामिल की गई है जो वंदे भारत मिशन से जुड़ी हुई है। एयरपोर्ट अथॉरिटी की सहायता से दूसरे देशों या राज्यों के प्रवासियों की वापसी के समय में उन्हें इस कौशल कार्ड की उपयोगिता के बारे में भी बताया जाएगा और इसके बैनर और डिजिटल स्टैंड लगाने की पहल भी आरंभ कर दी जाएगी।
  • वंदे भारत मिशन के तहत नागरिकों की संख्या:- वर्तमान आंकड़ों के अनुसार कुल 57000 लोग इस वंदे भारत मिशन के तहत भारत वापस लौटे हैं।

पात्रता मापदंड

  • आवासीय विवरण:- इस योजना के अंतर्गत मुख्य रूप से उन नागरिकों को प्राथमिकता दी जाएगी जो मुख्य रूप से भारत के निवासी हैं।
  • आय का विवरण:- वर्तमान स्थिति में आवेदक की आय का संपूर्ण विवरण भी आवेदन के समय प्राप्त किया जाएगा ताकि उसकी उम्मीदवारी के बारे में निर्णय लिया जा सके।
  • नौकरी का विवरण और पदनाम:- आवेदक को अपनी नौकरी के बारे में पूरी जानकारी आवेदन के समय देनी होगी ताकि उम्मीदवार को उसकी योग्यता के अनुसार अन्य क्षेत्रों में नौकरी के अवसर प्रदान किए जा सके।
  • योग्यता:- ऑनलाइन पंजीकरण प्रक्रिया के लिए केंद्र सरकार ने कुछ योग्यता सीमा भी निर्धारित की होंगी जिनका पालन आवेदक को करना होगा।
  • पहचान:- ऑनलाइन आवेदन के समय आवेदक को अपनी पहचान के लिए प्रमाण पत्र भी दिखाने होंगे।

जरूरी दस्तावेज

  • शैक्षणिक दस्तावेज:- आवेदन करते समय आवेदक को अपने शैक्षणिक दस्तावेज भी ऑनलाइन पंजीकरण के दौरान प्रस्तुत करने होंगे ताकि यह निर्धारित किया जा सके कि उम्मीदवार किस विशेष नौकरी को पाने योग्य है।
  • पहचान प्रमाण:- आवेदन के समय उचित पहचान प्रमाण पत्र की प्रतिलिपि भी प्रस्तुत करना अनिवार्य है।
  • आय प्रमाण पत्र:- आएगी परिस्थिति जानने के लिए आय प्रमाण पत्र भी आवेदक से मांगा जाएगा ताकि यह जानकारी प्राप्त की जा सके कि वह व्यक्ति योजना से लाभ प्राप्त करने योग्य है अथवा नहीं।
  • जॉब सर्टिफिकेट:- किल कार्ड प्राप्त करने के लिए व्यक्ति को अपने पिछले जॉब की स्थिति के बारे में सभी विवरण प्रस्तुत करने के लिए जॉब सर्टिफिकेट तैयार करना होता है। ताकि वह अपनी नौकरी की अनिश्चितता के बारे में जान सके और मूल स्थान पर लौट सके।
  • आवासीय दस्तावेज:- आवेदन भारत का नागरिक है इस बात को साबित करने के लिए उसको अपने आवासीय दस्तावेज भी पंजीकरण के समय दर्ज कराने होंगे।

कौशल मैपिंग डाटा किस प्रकार भारत लौटे नागरिकों की मदद कर सकता है?

  • इस योजना के आधिकारिक पोर्टल के माध्यम से जिन आंकड़ों को आधिकारिक रूप से इकट्ठा किया जाएगा उन्हें प्राप्त करने के बाद यह जानकारी हासिल हुई है कि अधिकांश उम्मीदवार को एक सऊदी और ओमान, यूएई, कतर और इस तरह के विभिन्न देशों से भारत लौट कर आए हैं।
  • कौशल मैपिंग योजना के अनुसार यह बात सामने आई है कि अधिकांश उम्मीदवार निर्माण, पर्यटन, तेल और गैस आतिथ्य विमानन और मोटर वाहन उद्योगों में कार्यरत थे।
  • उम्मीदवारों की सबसे ज्यादा संख्या भारत के तमिलनाडु, केरल, कर्नाटक, तेलंगाना और महाराष्ट्र जैसे राज्यों से संबंधित है।

स्वदेश कौशल कार्ड के तहत ऑनलाइन पंजीकरण प्रक्रिया

  • सरकार द्वारा जारी आधिकारिक स्वदेश कौशल कार्ड वेबसाइट के जरिए होम पेज पर जाना होगा।
  • होम पेज पर जाते ही आपको योजना से संबंधित पंजीकरण फॉर्म प्राप्त हो जाएगा।
  • उस फॉर्म को आप को डिजिटल रूप में भरना होगा जिसमें आपको अपना नाम, पासपोर्ट नंबर, राज्य, जिला, संपर्क विवरण, ईमेल आईडी, रोजगार की स्थिति, शैक्षणिक योग्यता, कार्य क्षेत्र नौकरी, पदनाम जैसे सभी महत्वपूर्ण विवरण दर्ज कराने होंगे।
  • फॉर्म पूरी तरह से भर देने के बाद आपको सबमिट का विकल्प दिखाई देगा जिस पर क्लिक करते ही आपका पंजीकरण पूरा हो जाएगा और आप अपना फॉर्म जमा करा सकते हैं।

केंद्र सरकार द्वारा जारी की गई इस योजना के चलते बहुत सारे ऐसे प्रवासियों को अपने जीवन के आधार को ठीक करने का अवसर प्राप्त होगा जो दूसरे देशों में रोजगार के अवसर प्राप्त करने के लिए जाते हैं। परंतु कोरोना की महामारी के इस तालाबंदी की वजह से वे बेरोजगार हो चुके हैं और अपने देश में वापस आने के बाद भी उन्हें कोई रोजगार नहीं मिला है जिसकी वजह से वह घर पर बैठे हैं और उनके घर की आर्थिक स्थिति भी सही नहीं है।

FAQs

Q- वंदे भारत मिशन क्या है?

A- भारत सरकार के उद्यान विभाग द्वारा वंदे भारत मिशन आरंभ किया गया था. इस मिशन का मुख्य उद्देश्य विदेश मंत्रालय की सहमति से दूसरे देशों में फंसे हुए लोगों को वापस भारत लाने का था. ताकि वे अपनी आजीविका को सामान्य स्थिति पर लाकर अपने देश वापस लौट सकें.

Q- क्या वंदे भारत मिशन के तहत चलने वाली उड़ानों में स्वच्छता और सुरक्षा उपायों को अपनाया जाता है?

A- भारत सरकार द्वारा वंदे भारत मिशन के तहत चलने वाले सभी उड़ानों में पूरी तरह से स्वच्छता और सुरक्षा के उपायों को अपनाकर ही प्रवासियों को एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाने केंद्र जाम किए गए है। जिसमें यात्रियों के थर्मल स्क्रीनिंग से लेकर प्रत्येक यात्री के संपूर्ण विवरण की जांच पड़ताल प्रस्तुत करने के बाद ही उन्हें विमान में बैठने की इजाजत दी गई।

Q-  कौशल कार्ड की मदद से नौकरी कैसे प्राप्त की जा सकती है?

A- कौशल कार्ड में एकत्र किए डेटाबेस के डाटा के जरिए कंपनियों के साथ योग्य व्यक्तियों की जानकारी साझा की जाएगी. जैसे ही व्यक्ति के योग्य कोई नौकरी का सही विकल्प सामने आता है तो तुरंत उसके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर अथवा ईमेल आईडी के जरिए उसे सूचित किया जाएगा इसके लिए आवेदन कर्ता को अपना मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी आवेदन के समय डालना आवश्यक है.

Q- कार्ड के माध्यम से जानकारी एकत्र करने के क्या कारण है?

A- कोविड-19 के प्रकोप की वजह से उम्मीदवारों को अपनी नौकरी छोड़नी पड़ी है जिसकी वजह से उन्हें नौकरी के नए अवसर प्रदान करने के लिए यह स्कीम जारी की गई है. वंदे भारत मिशन के तहत योग्य व्यक्तियों को उनकी आवश्यक शैक्षणिक और अनुभव योग्यता के अनुसार कंपनियों के साथ  उनके अनुभव को साझा किया जाएगा ताकि उन्हें नौकरी प्रदान की जा सके.

Q- स्वदेश कौशल कार्ड कौन प्राप्त कर सकते है?

A- सरकार की योजना के तहत राष्ट्रीय कौशल विकास निगम द्वारा निर्धारित नियमों के अनुसार जो डाटा एकत्रित किया गया है उन लोगों को इस कार्ड के योग्य माना जाएगा.

Q- योजना से संबंधित हेल्पलाइन नंबर कैसे प्राप्त करें?

A- विदेश मंत्रालय द्वारा योजना से जुड़ा संपर्क नंबर प्रस्तुत किया गया है.

Q-  स्वदेश कौशल कार्ड पहल का आधिकारिक पोर्टल क्या है?

A– स्वदेश कौशल कार्ड से संबंधित आधिकारिक पोर्टल http://nsdcindia.org/swadeshi/ है।

Other links –

About Editor