[फॉर्म] परिवार पहचान पत्र हरियाणा 2019-20

परिवार पहचान पत्र हरियाणा (Haryana Parivar Pehchan Patra (PPP) (Family Identity Card) in hindi) 2019-20 [ऑनलाइन आवेदन फॉर्म डाउनलोड, योग्यता, लिस्ट, चेक स्टेटस, लाभार्थी सूची @meraparivar.haryana.gov.in]

हरियाणा की प्रदेश सरकार ने कुछ समय पहले एक पहल की शुरुआत की थी, जिसके तहत राज्य में जितने भी परिवार हैं उनके लिए एक यूनिक नंबर वाला ‘परिवार पहचान कार्ड’ उन्हें उपलब्ध कराया जाने का प्रावधान था. जिसमे उस परिवार की सभी जानकारी मौजूद होगी. इसके माध्यम से सभी लाभार्थी सरकार द्वारा चलाई जा रही सारी योजनाओं का लाभ भी आसानी से उठा सकते हैं. हालही में इस योजना का पोर्टल भी लांच किया जा चूका है. इस कार्ड से लाभार्थी को क्या – क्या लाभ मिल सकता है और इसकी क्या – क्या खूबियाँ हैं यह सब जानकारी आपको हमारे इस लेख में मिलेगी.

Haryana-Parivar-Pahchan-Patra

लांच की जानकारी (Launched Details)

नामपरिवार पहचान पत्र (फॅमिली आईडी कार्ड)
लांचजनवरी, 2019
पोर्टल का लांचजुलाई, 2019
पोर्टल की शुरुआतमुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा
आवेदनजुलाई, 2019 से
कुल लाभार्थी परिवारराज्य के 55 लाख परिवारों के लिए
संबंधित विभागस्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग

 

परिवार पहचान पत्र हरियाणा से मिलने वाले लाभ (Parivar Pehchan Patra Haryana Benefits)

  • परिवार की जानकारी :- आप सभी को तो बता ही होगा कि किसी भी परिवार की पूरी जानकारी के लिए अब तक देश में केवल राशन कार्ड ही जारी किये गए हैं. लेकिन राशन कार्ड देश के हर परिवार के पास नहीं होता हैं जिसके कारण उनकी जानकारी सरकार के पास भी नहीं होती हैं. किन्तु अब हरियाणा सरकार राज्य के सभी परिवारों की जानकारी एकत्र करने के लिए यह पहचान कार्ड ले कर आई है.
  • रिकॉर्ड का अपडेशन :- जनगणना 2011 या एसईसीसी सूची के अनुसार राज्य में जितने भी परिवार के नाम शामिल हैं उन सभी परिवार की जानकारी को अपडेट किया जायेगा. और उन्हें ये कार्ड दिए जायेंगे. किन्तु इस सूची में जिन परिवारों के नाम शामिल नहीं हैं उन्हें इसमें शामिल करवा कर उन्हें यह कार्ड दिया जायेगा. ताकि राज्य के सभी परिवारों को योजनाओं का लाभ प्राप्त हो सकें.
  • भ्रष्टाचार में कमी :- यह परिवार कार्ड राज्य में शुरू किये जाने से सबसे बड़ा फायदा यह होगा कि इससे भ्रष्टाचार में कमी होगी. क्योंकि इसमें सरकार के पास सभी परिवारों की जानकारी निहित होगी. इससे कोई भी व्यक्ति नकली दस्तावेज का उपयोग करके किसी योजना का लाभ नहीं उठा पायेगा, क्योंकि योजना का लाभ किसको मिलना चाहिए और किसे नहीं यह सब अब सरकार के अंतर्गत होगा. इससे किसी भी प्रकार की धोखाधड़ी का सवाल ही पैदा नहीं हो सकता है. और योजना का लाभ भी केवल योग्य लाभार्थी को ही प्राप्त होगा.
  • सरकारी कार्यालयों के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे :- इस कार्ड के शुरू होने से अब यह भी सुविधा नागरिकों को प्राप्त होगी, कि अब उन्हें किसी भी योजना के लिए आवेदन करने या उसका लाभ प्राप्त करने के लिए सरकारी कार्यलयों के चक्कर नहीं लगाने होंगे. अब सरकार खुद – ब – खुद उन तक पहुंचेगी और उन्हें लाभ प्रदान करेगी.
  • राज्य के प्रत्येक परिवार के लिए अनिवार्य :- हरियाणा राज्य में जितने भी परिवार हैं उन्हें यह कार्ड बनवाना अनिवार्य हैं. इसके साथ ही सरकारी अधिकारीयों एवं कर्मचारियों के लिए मुख्य रूप से यह प्रावधान रखा गया हैं कि यदि वे इस महीने अपना परिवार पहचान कार्ड नहीं बनवाते हैं तो उन्हें अगले माह से वेतन नहीं दिया जायेगा.
  • क्षेत्र की पहचान :- राज्य सरकार ने राज्य के सभी क्षेत्र के लिए अलग – अलग कोड निर्धारित किये हैं यहाँ तक कि शहर और गांव के लिए भी अलग – अलग कोड हैं. ताकि परिवार किस क्षेत्र से संबंध रखता हैं इसकी भी पहचान की जा सके.
  • प्रोत्साहन राशि :- इस कार्ड की सुविधा शुरू करने के लिए सरकार ने कहा हैं कि ऑपरेटर लोगों को ये कार्ड उपलब्ध करने में एवं फॉर्म भरने में उनकी मदद करें, इसके बदले में उन्हें प्रत्येक फॉर्म पर अतिरिक्त 5 रूपये प्रोत्साहन राशि स्वरुप दिए जाएंगे.
  • जन्म एवं मृत्यु प्रमाण पत्र नहीं बनवाना होगा :- इस कार्ड के आने से लोगों को अब उनका जन्म प्रमाण पत्र एवं मृत्यु प्रमाण पत्र भी नहीं बनवाना होगा. क्योंकि अब सरकार खुद ही अस्पतालों से उस परिवार के सदस्य के जन्म की जानकारी और उसके मरने के बाद श्मशान घाट या कब्रिस्तान से मृत्यु के रजिस्ट्रेशन की जानकारी प्राप्त कर सिस्टम में अपडेट कर देगी.
  • बुजुर्गों एवं अन्य लोगों को मिलने वाली पेंशन :- राज्य में बुजुर्गों या अन्य लोगों को मिलने वाली पेंशन प्राप्त करने में उन्हें जन्म प्रमाण पत्र या अन्य कई दस्तावेजों के चलते कई समस्याओं का सामना करना पड़ता था, किन्तु अब उन्हें इस पहचान कार्ड के आने से परेशान होने की जरुरत नहीं है. सरकार इस कार्ड के माध्यम से उनकी भी सारी परेशानी दूर कर देगी.
  • लड़की की शादी होने पर :- चूकि परिवार कार्ड में किसी परिवार में पैदा हुई लड़की का भी नाम उनके जन्म से शामिल होगा. किन्तु जब उसकी शादी हो जाएगी तो उसका नाम उसके पिता के परिवार कार्ड से काट कर उसके पति के परिवार के कार्ड में शामिल करना होगा. इसका अपडेशन भी सरकार द्वारा ही किया जायेगा. साथ ही उनके मैरिज सर्टिफिकेट को भी इसमें शामिल किया जायेगा. इसके लिए केवल उसके परिवार के मुखिया को एक फॉर्म भरना होगा जिसमें इससे संबंधित सभी जानकारी दी हुई होगी, यह फॉर्म उन्हें अटल सेवा केंद्र या अन्त्योदय सेवा केंद्र से प्राप्त हो जायेगा. इसके बाद इस जानकारी को विभाग द्वारा सत्यापित कर अपडेट कर दिया जायेगा.
  • संपत्ति का ब्यौरा :- इस कार्ड में परिवार की पूरी संपत्ति जोकि चल – अचल कुछ भी हो सभी का ब्यौरा भी निहित होगा.

हरियाणा परिवार पहचान पत्र पोर्टल की विशेषताएं (Parivar Pehchan Patra Haryana Features)

  • यूनिक नंबर :- हरियाणा सरकार द्वारा शुरू किये जा रहे परिवार पहचान कार्ड में एक यूनिक नंबर दिया गया है, जोकि 14 डिजिट का हैं और यह हर परिवार के लिए यूनिक है. इस नंबर में शहर और गांव के लिए जो अलग से कोड दिया जायेगा वह भी शामिल होगा.
  • अन्य विशेषता :- यह एक स्मार्ट कार्ड हैं जिसमे परिवार के मुखिया के साथ – साथ परिवार के हर एक सदस्य की पूरी जानकारी होगी. इसमें उनका मोबाइल नंबर भी अपडेट किया हुआ होगा. और साथ ही कार्ड में सबसे ऊपर परिवार के मुखिया का नाम भी मेंशन किया हुआ होगा.
  • जानकारी का ब्यौरा :- किसी भी परिवार को अपने परिवार की जानकारी देखने के लिए परिवार पहचान पत्र हरियाणा के अधिकारिक पोर्टल पर जाना होगा. यहां से आवेदक अपनी सभी जानकारी का ब्यौरा प्राप्त कर सकते हैं.
  • सॉफ्टवेयर की विशेषता :- इस परिवार पहचान पत्र हरियाणा के पोर्टल में एक सॉफ्टवेयर ऐसा होगा, जोकि यह सब मैनेज करेगा कि किसी परिवार के किस सदस्य की उम्र कितनी हैं और वह किस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए योग्य है. और यह सब मैनेज कर लोगों को उनका लाभ दिलवाने में सरकार को आसानी होगी.

परिवार पहचान पत्र के लिए पात्रता (Eligibility Criteria)

इस परिवार पहचान कार्ड के लिए केवल एक ही पात्रता निर्धारित की गई है कि जिन परिवारों को यह कार्ड उपलब्ध कराएँ जायेंगे, वह मूल रूप से हरियाणा की सीमा के अंदर का ही निवासी होना चाहिए. अन्य राज्य से सम्बन्ध रखने वाले लोगों के लिए यह सुविधा नहीं दी गई है.

आवेदन करने के लिए आवश्यक दस्तावेज (Required Documents for

Family ID Card Application)

इस कार्ड के लिए आवेदन करने के लिए आवेदक को कुछ दस्तावेजों की आवश्यकता पड़ सकती हैं, वे दस्तावेज परिवार के मुखिया एवं अन्य सदस्यों का आधार कार्ड, मुखिया का मोबाइल नंबर और यदि उनके पास उनका राशन कार्ड हैं तो वह आदि हो सकते हैं.

परिवार पहचान पत्र हरियाणा का आवेदन  फॉर्म, प्रक्रिया (Parivar Pehchan Patra Haryana Application Form Process)

  • इस कार्ड के लिए आवेदन करने के लिए आवेदन फॉर्म आप अपने नजदीकी राशन दुकान, तहसील कार्यालय, ब्लॉक कार्यालय, गैस एजेंसी, सरकारी स्कूल या फिर अटल सेवा केंद्र या अंत्योदय सेवा केंद्र या सरल केंद्र में जाकर प्राप्त कर सकते हैं.
  • फॉर्म प्राप्त करने के बाद आप इसमें पूछी गई सभी जानकारी जोकि आपकी एवं आपके परिवार के हर एक सदस्य की होगी को सही – सही और सावधानी पूर्वक भरें. क्योंकि यही जानकारी आपके पहचान कार्ड में अपडेट की जाएगी.
  • जानकारी भर जाने के बाद इसमें आप सभी दस्तावेजों की कॉपी भी संलग्न करें. और उसे उसी कार्यालय में जमा कर दें जहाँ से आपने फॉर्म प्राप्त किया था.
  • इसके बाद उस अधिकारी द्वारा फॉर्म में दी गई जानकारी की जांच की जाएगी कि जानकारी सही है या नहीं. सब कुछ सही होने के बाद ही आवेदकों को यह परिवार पहचान कार्ड वितरित किये जायेंगे.
  • पहचान कार्ड के साथ ही आपको एक यूजर आईडी और पासवर्ड भी उपलब्ध कराया जायेगा. अतः इस फॉर्म में आपने जो – जो जानकारी दी हैं वह सभी जानकारी आप परिवार पहचान पत्र पोर्टल में जाकर लॉग इन करके प्राप्त कर सकते हैं. इसके अलावा आप सरल सेवा केंद्र की वेबसाइट के माध्यम से भी यह जानकारी देख सकते हैं.

परिवार पहचान पत्र हरियाणा की कुछ अन्य जानकारी (Some Other Details)

इस पहचान कार्ड के तहत सरकार ने यह भी प्रावधान रखने का फैसला किया है कि आने वाले समय में पहचान कार्ड में जानकारियों को स्कैन करने एवं अपलोड करने में परेशानी ना हो, इसके लिए राज्य में कम से कम 500 परिवार पहचान पत्र (पीपीपी) रजिस्ट्रेशन सेंटर भी स्थापित किये जायेंगे.

अतः देश में कई पहचान पत्र नागरिकों की पहचान के लिए शुरू किये गए हैं जैसे कि आधार कार्ड आदि और भी. लेकिन अब तक हमारे देश में ऐसा कोई भी कार्ड जारी नहीं किया जा सका है. जिसके माध्यम से किसी व्यक्ति विशेष की ही नहीं बल्कि उसके पूरे परिवार की सभी जानकारी एक ही कार्ड में दी हुई हो. हरियाणा सरकार द्वारा शुरू किये जाने वाले इस कार्ड की सुविधा अब तक देश के अन्य किसी भी राज्यों में नहीं दी गई है. यह लाभ केवल हरियाणा राज्य सरकार ने ही अपने राज्य के निवासियों को दिया है. अतः यह कार्ड सरकारी योजनाओं का लाभ लाभार्थियों तक आसानी से पहुँचाने में पारदर्शता लायेगा.

Other links –